उत्तराखंड में जल्द शुरु होगी क्लाइमेट बजटिंग, सीएम तीरथ का बयान

61

उत्तराखंड सरकार अब जल्द ही क्लाइमेट बजटिंग पर काम शुरु करेगी। सीएम तीरथ सिंह रावत ने अगले बजट में इसे शामिल करने की बात कही है।


क्लाइमेट बजटिंगहिमालयी राज्य उत्तराखंड में अगले बजट से क्लाइमेट बजटिंग शुरु हो सकती है। इस संबंध में सीएम तीरथ सिंह रावत ने इशारा किया है। विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर सीएम ने कहा है कि अगले बजट में यानी 2022-23 के बजट में राज्य में क्लाइमेट बजटिंग को शुरु किया जाएगा। इसके साथ ही सीएम ने कहा है कि राज्य में स्थित समस्त गांवों एवं गांवों के आस-पास के क्षेत्र में स्थित तालाबों/जल निकायों, जो राजस्व अभिलेखों में दर्ज हैं, उन सब का अगले 01 वर्ष में पुनर्जीवन किया जायेगा।

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर सीएम ने देहरादून में जीएमएस रोड स्थित भागीरथीपुरम आवास पर वृक्षारोपण किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर जामुन का पेड़ लगाया।

लगाएं एक पेड़ 

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपील की कि प्रत्येक व्यक्ति एक -एक वृक्षारोपण कर पर्यावरण के संरक्षण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। पर्यावरण की सुरक्षा आम आदमी के जीवन से जुड़ा विषय है। पर्यावरण का संरक्षण हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस की थीम पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली है।इकोसिस्टम रेस्टोरेशन के तहत पेड़ लगाकर एवं पर्यावरण की रक्षा कर हमें प्रदूषण के बढ़ते स्तर को कम करने और इकोसिस्टम पर बढ़ते दबाव को कम करने की दिशा में विशेष ध्यान देना होगा।

ये भी पढ़िए –  एक घंटे में RTPCR रिपोर्ट बना कर दे रहे थे, मंत्री के छापे में हुआ फर्जीवाड़े का खुलासा

क्या है क्लाइमेट बजटिंग (Climate Budget Tagging)

क्लाइमेट बजटिंग या क्लाइमेट बजट टैगिंग (सीबीटी) जलवायु परिवर्तन के आर्थिक, सामाजिक और पर्यावरणीय प्रभावों को कम करने के लिए सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन में जलवायु परिवर्तन को मुख्यधारा में लाने में देशों की मदद करने के लिए डिज़ाइन किए गए जलवायु संबंधी वित्त उपकरणों के एक समूह में से एक है। ये एक तरीके से वित्त का जिम्मा संभालने वाले विभागों के लिए गाइडलाइन या मार्गदर्शक के तौर पर है जो किसी स्टेट या देश में बजट तैयार करने में अहम भूमिका निभाते। क्लाइमेट बजटिंग के दौरान आर्थिक बजट के निर्माण के दौरान पर्यावरणीय बदलावों को विशेष रूप से ध्यान में रखा जाता है।


समाचारों के लिए हमें ईमेल करें – khabardevbhoomi@gmail.com। हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube