बहुत दुखद – जिंदा जलाई गई उत्तराखंड की बेटी हार गई जिंदगी की जंग, अस्पताल में मौत

585

आखिरकार उत्तराखंड की एक बेटी की एक दरिंदे ने जान ले ही ली। पौड़ी में जिस लड़की को पेट्रोल झिड़ककर जलाया गया था उसके दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया। लड़की की मौत के बाद पूरे उत्तराखंड में मातम पसरा है। जो भी लड़की की मौत की खबर सुन रहा है वही दुख जता रहा है साथ ही लड़की को आग लगाने वाले दरिंदे को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग कर रहा है।

बता दें कि गत रविवार को छात्रा परीक्षा देकर लौट रही थी, उसी समय रास्ते में गहड़ गांव का मनोज सिंह उर्फ बंटी उसका पीछा करने लगा। कुछ देर बाद एक सुनसान जगह कच्चे रास्ते पर उसने छात्रा को जबरन रोककर उससे जबरदस्ती करनी शुरू कर दी।

छात्रा के विरोध करने पर आरोपी ने उसके ऊपर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी और मौके से फरार हो गया। कुछ देर बाद मौके से गुजर रहे एक ग्रामीण ने छात्रा को जली हुई हालत में रास्ते में पड़ा देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी।

 ये खबर भी पढ़िए –   25 से उत्तराखंड में सबको पांच लाख तक का मुफ्त ईलाज, ऐसे मिलेगा फाएदा…

जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और 108 एंबुलेंस की मदद से छात्रा को जिला अस्पताल पौड़ी लाई। यहां डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद छात्रा को मेडिकल कॉलेज श्रीनगर रेफर कर दिया।

इसके बाद छात्रा को एम्स ऋषिकेश रेफर किया गया लेकिन सुधार न होने पर उसे दिल्ली सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया था। जहां आज छात्रा ने दम तोड़ दिया।

इस घटना से पूरा उत्तराखंड सहम गया। लोगों ने उत्तराखंड की बेटी के लिए दुआएं शुरु कर दीं लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था। आखिरकार इस बेटी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। उत्तराखंड की इस बिटिया की मौत से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत भी दुखी हैं। अपने शोक संदेश में सीएम ने न सिर्फ लड़की के निधन पर दुख व्यक्त किया है बल्कि दोषी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का आश्वासन भी दिया है।

दुख की इस घड़ी में पूरा उत्तराखंड लड़की के परिवार के साथ खड़ा है।