देश की स्वास्थ एजेंसियां अब भी कोरोना की तीसरी लहर की आशंका से इंकार नहीं कर पा रहीं हैं। ऐसे में केंद्र सरकार की ओर से कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए निर्देश जारी कर दिए हैं।


देश कोरोना संक्रमण पर अब तक पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा सका है। पिछले कई दिनों से देशभर से कोरोना संक्रमण के 40 हजार से ज्यादा नए मामले प्रतिदिन सामने आ रहे हैं। दक्षिण भारत के राज्य केरल में हालात अभी भी खराब हैं, ऐसे केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को विभिन्न गाइडलाइंस का पालन करने को कहा है। इसको लेकर एक ऑर्डर जारी किया गया है। आइए आपको बताते हैं कि केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस में किन आदेशों का पालन करने के लिए कहा गया है।

जिन जिलों में पॉजिटिविटी रेट ज्यादा है, वहां संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सख्त कदम उठाए जाने चाहिए।

आने वाले फेस्टिव सीजन में भीड़ को एकत्र होने से रोकने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए और अगर जरूरी हो तो भीड़ को रोकने के लिए स्थानीय स्तर पर पाबंदियां भी लागू की जानी चाहिए।

भीड़ वाले स्थानों  पर कोरोना प्रोटोकॉल के पालन का सख्ती से पालन होना चाहिए। कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए राज्यों को टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, वैक्सीनेशन और कोविड से संबंधित व्यवहार के पालन पर खास ध्यान देना चाहिए।

राज्य सरकारों को कोविड के प्रसार को कम करने के लिए अपने प्रयासों को लगातार बढ़ाएं।

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से अनुरोध है कि वे बीमारी के संचरण को प्रभावी ढंग से रोकने के लिए अपने प्रवर्तन प्रयासों को बढ़ाएं। राज्यों से  प्राप्त Weekly Enforcement Data दर्शाते हैं कि फेसमास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, कोविड नियमों के उल्लंघन पर फाइन लगाने से संक्रमण का ग्राफ गिरा है।

सभी राज्य सरकारें वैक्सीनेशन पर खास धयान रखें और ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें।

जिन इलाकों में वायरस नहीं फैला है या कम है, वहां भी टेस्टिंग को बढाया जाए।


हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube