उत्तराखंड में स्कूल वैन संचालकों ने परिवहन विभाग के खिलाफ मोर्चा खोलने का ऐलान किया है। वैन संचालकों ने कहा है कि परिवहन विभाग के जरिए दबाव बनाने की निंदा की है।


परिवहन विभाग के खिलाफ उत्तराखंड के स्कूल वैन संचालकों का गुस्सा फूट पड़ा है। स्कूल वैन एसोसिएशन ने कहा है कि अगर किसी भी स्कूल वैन संचालकर को नाजायज परेशान किया गया तो मजबूरन परिवहन विभाग के अधिकारियों के खिलाफ मोर्चा खोलने को बाध्य होना पड़ेगा।

धमकी को लेकर नाराजगी

एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष सचिन गुप्ता के नेतृत्व में शुक्रवार को संचालकों की बड़ी बैठक हुई है। इस बैठक में परिवहन विभाग की कार्यप्रणाली को लेकर खासी नाराजगी जताई गई है। संचालकों ने कहा है कि परिवहन विभाग व्यावसायिक गाड़िया चलाने वाले वाहन चालकों को टैक्स जमा करने का दबाव बनाने के अखबारों और अन्य माध्यमों के जरिए दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है।

वैन संचालकों ने कहा है कि पिछले दो सालों से कोरोना के चलते काम पूरी तरह ठप है। स्कूल बंद होने से स्कूल वैन नहीं चल पा रहीं हैं। ऐसे में गाड़ियों का इंश्योरेंस, टैक्स, फिटनेस, ईएमआई, मेंटेंस का खर्चा बना हुई है। आजीविका प्रभावित हुई जिससे परिवार का खर्च चलाना मुश्किल हो रहा है। ऐसे में अब देहरादून का आरटीओ नोटिस भेजने की धमकी दे रहा है।

ये भी पढ़िए – उत्तराखंड में शताक्षी ने किया टॉप, मिले 99.60 फीसदी अंक

ऐसे में अब स्कूल वैन संचालकों ने ऐलान किया है कि वो अपने परिवार के लोगों के साथ 10 अगस्त को डीएम ऑफिस कूच करेंगे। वैन संचालकों ने कहा है कि वो अपनी मांगों से शासन प्रशासन को अवगत कराएंगे।


समाचारों के लिए हमें ईमेल करें – khabardevbhoomi@gmail.com। हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube