उत्तराखंड के श्रीनगर विधानसभा में नए स्कूलों के लिए जल्द से जल्द धनराशि जारी करने के निर्देश दिए गए हैं। कैबिनेट मंत्री और स्थानीय विधायक धन सिंह रावत ने इस संबंध में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। 


dhan singh rawat news

चुनावी साल में अब सरकार के मंत्रियों का फोकस अपनी अपनी विधानसभाओं में अधिक से अधिक से विकास कार्यों को कम से कम समय पूरा करने पर है। राज्य के कैबिनेट मंत्री और विधायक धन सिंह रावत ने अपने विधानसभा इलाके में नए स्कूलों के लिए जल्द से जल्द बजट रिलीज करने के निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार को एक बैठक के दौरान शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ धन सिंह रावत ने श्रीनगर इलाके की समीक्षा की। विधानसभा क्षेत्र के विद्यालयों की समीक्षा बैठक में डॉ रावत ने विभिन्न विद्यालयों में अधूरे पड़े निर्माण कार्यों को शीघ्र पूरा करने तथा स्कूलों की साज-सज्जा सहित मूलभूत सुविधाएं सुनिश्चित करने के निर्देश भी बैठक में दिये। उन्होंने अधिकारियों को प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर पुस्तकालयों की स्थापना करने के निर्देश भी दिये।

जल्द जारी हो धनराशि

धन सिंह रावत ने श्रीनगर विधानसभा के अंतर्गत प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों की समीक्षा की। बैठक में डा. रावत ने कहा कि नए स्कूलों भवनों के लिए जिला स्तर से कार्यदायी संस्थाओं द्वारा जो डीपीआर शासन को भेजी है उसका शीघ्र निस्तारण कर धनराशि जारी की जाए। ताकि समय से विद्यालय भवनों का निर्माण कार्य शुरू किया जा सके।

ये भी पढ़िए – विधानसभा दफ्तर में सीएम पुष्कर सिंह धामी ने शुरू किया कामकाज

क्षेत्र के अन्य विद्यालयों में अधूरे पड़े निर्माण कार्यो को शीघ्र पूरा करने के निर्देश भी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दिये गए। साथ ही डॉ रावत ने विद्यालयों में मरम्मत कार्य, साज-सज्जा एवं मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने की बात भी बैठक में कही।

स्कूल हों चटाई मुक्त 

क्षेत्र के स्कूलों को चटाई मुक्त करने के उद्देश्य से चलाये गये अभियान के अंतर्गत शेष रहे गये स्कूलों में शीघ्र फर्नीचर उपलब्ध करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये। बैठक में शिक्षा सचिव राधिका झा ने बताया कि श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत विभिन्न विद्यालयों के अधूरे पड़े भवनों के निर्माण कार्यों को शीघ्रता से पूरा करवाया जायेगा।

राजकीय इंटर कॉलेज उफरौखाल, स्योली तल्ली एवं ग्वालखड़ा के भवनों की डीपीआर पर जल्द कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बैठक में विद्यालयों की साज-सज्जा एवं मरम्मत कार्यों को प्राथमिकता से साथ पूरा करने की बात कही। साथ ही उन्होंने कहा कि क्षेत्र के प्रत्येक ग्राम सभा में सार्वजनिक पुस्तकालयों की स्थापना तथा चटाई मुक्त अभियान के तहत छूट गये कुछ विद्यालयों में फर्नीचर की आपूर्ति शीघ्र कर दी जायेगी।


हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube