देहरादून में एसटीएफ ने एक फर्जी आर्मी लेफ्टिनेंट को गिरफ्तार किया है।

दरअसल एसटीएफ को विश्वस्त सूत्रों से खबर मिली कि एक फ़र्ज़ी स्टार लगी यूनिफार्म पहना और आई कार्ड आदि बना कर देहरादून और आसपास के संवेदनशील इलाकों में एक नकली लेफ्टिनेंट घूम रहा है। इसकी सूचना मिलने पर सचिन अवस्थी को स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड ने गिरफ्तार किया।

फर्जी लेफ्टिनेंट का नाम सचिन अवस्थी बताया जा रहा है। उसने पूछताछ में बताया कि वो फर्जी लेफ्टिनेंट बनकर और वर्दी पहनकर लोगों से नौकरी के नाम पर पैसा लेता था। आरोपी सचिन अवस्थी के घर से सर्च में लैपटॉप में ऐसे दस्तावेज़ जो फ़र्ज़ी नौकरी देने से संबंधित प्राप्त हुए हैं। साथ ही आर्मी की यूनिफार्म,आई कार्ड आर्मी का, आदि उपकरण भी बरामद हुए हैं। एसटीएफ द्वारा पूछताछ और विधिक कार्यवाही की जा रही है।

एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि सूत्रों से मिली खबर पर कार्रवाई की गई। बंजारावाला में कारगी रोड से एक कमरे से आर्मी में फर्जी लेफ्टिनेंट बताकर रहने वाले युवक को गिरफ्तार किया। जो फर्जी स्टार लगी यूनिफार्म पहनता था और आईकार्ड बना कर देहरादून और आसपास के संवेदनशील इलाको में घूमता था। अपनी ड्रेस की हनक दिखाकर युवाओं को सेना में भर्ती कराने का लालच देता था। कई लोगों से ठगी की बात सामने आई है।

एक व्यक्ति से सैनिक पद पर भर्ती के लिए दो लाख रुपये लिए जाना प्रकाश में आया है। युवाओं से अपने पीएनबी, एसबीआई के खातों में रुपये जमा कराता था। यूपी के ही ज्यादातर युवाओं का उसने ठगा है। खातों की डिटेल की जांच की जा रही है। युवक सचिन अवस्थी पुत्र राजेन्द्र अवस्थी निवासी आबू नगर जीटी रोड फतेहपुर का रहने वाले है। पटेलनगर में उसके खिलाफ संगीन धाराओं में केस दर्ज कराया गया है।

आरोपी पिछले कई साल से यहां रह रहा था। मकान मालिक को एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करने की बात बताकर रहने देता था। कमरे में किसी को नहीं आने देता था। कमरे में पूरा सेटअप तैयार किया था। खुद ही उसने स्टैंड लगाकर फोटो खींची थी।