फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का निधन हो गया है। उन्हे कोरोना हुआ था। चंडीगढ़ पीजीआई में उनका इलाज चल रहा था।


FLYINGH SIKH MILKHA SINGH भारत के फ्लाइंग सिख और मशहूर धावक मिल्खा सिंह अब इस दुनिया में नहीं रहे। 91 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया। उन्होंने चंडीगढ़ पीजीआई अस्पताल में अंतिम सांसें लीं। उन्हें 19 मई को कोरोना हुआ था और स्वास्थ संबंधी दिक्कतों से जूझ रहे थे।

पत्नी की मौत का सदमा

पांच दिनों पहले ही मिल्खा सिंह की पत्नी निर्मल कौर का भी निधन हुआ है। वो भी कोरोना संक्रमित हो गईं था। कोविड के बाद की स्वास्थ संबंधी दिक्कतों के चलते उनका निधन हो गया। वो 85 साल की थीं और भारतीय महिला वॉलीबॉल टीम की कप्तान भी रह चुकीं थीं।  पत्नी की मौत से मिल्खा सिंह सदमे में थे। वो पत्नी के अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं हो पाए थे। उस समय वो ICU में एडमिट थे।

अचानक बिगड़ने लगी तबियत

‘फ्लाइंग सिख’ मिल्खा सिंह को कोरोना हुआ था। वह पहले मोहाली के निजी अस्पताल में काफी दिनों तक एडमिट रहे। उसके बाद उन्हें घर लाया गया। इसके बाद दोबारा तबीयत बिगड़ने पर उन्हें फिर से पीजीआई चंडीगढ़ में भर्ती करवाया गया था। तब से उनका पीजीआई में इलाज चल रहा था। उनकी 2 दिन पहले कोरोना  रिपोर्ट नेगेटिव आई थी और उनकी हालत में भी सुधार बताया जा रहा था। इसी बीच शुक्रवार सुबह से उनकी तबीयत बिगड़नी शुरू हो गई। उनका ऑक्सीजन लेवल भी घटकर करीब 56 रह गया था। जिसके बाद से उन्हें आईसीयू में रखकर बचाने की कोशिश की जा रही थी। देर रात करीब 11.30 बजे उन्होंने चंडीगढ़ पीजीआई में दम तोड़ दिया।

जताया शोक

वहीं मिल्खा सिंह के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गहरा दुख प्रकट किया है। उन्होंने ट्वीट कर अपनी संवेदनाएं प्रकट की हैं। उन्होंने लिखा है, महान खिलाड़ी मिल्खा सिंह के निधन से मेरा दिल दुख से भर गया है। उनके संघर्षों की कहानी और चरित्र की ताकत हम भारतीयों को पीढ़ियों तक प्रेरित करती रहेगी। उनके परिवार के सदस्यों और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति मेरी गहरी संवेदना।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मिल्खा सिंह के निधन पर दुख जताते हुए कहा है कि- श्री मिल्खा सिंह जी के निधन के साथ ही हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया है, जो देश की कल्पनाओं में बसता था और जिसने अनगिनत भारतीयों के दिलों में एक विशेष स्थान बना लिया था। उनके प्रेरक व्यक्तित्व ने खुद को लाखों लोगों का प्रिय बना दिया। उनके निधन से आहत हूं। पीएम मोदी ने एक अन्य ट्वीट में लिखा है- अभी कुछ दिन पहले ही मेरी श्री मिल्खा सिंह जी से बात हुई थी। मुझे नहीं पता था कि यह हमारी आखिरी बातचीत होगी।


समाचारों के लिए हमें ईमेल करें – khabardevbhoomi@gmail.com। हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube