देहरादून। उत्तराखंड में सरकारी छुट्टियों की लिस्ट पर विवाद खड़ा हो गया है। इस कैलेंडर में इगास की छुट्टी शामिल न करने पर सरकार को विपक्ष ने निशाने पर ले लिया है।


calender उत्तराखंड में सरकार ने छुट्टियों का कैलेंडर जारी कर दिया है। इस कैलेंडर में इगास की छुट्टी शामिल न होने पर विवाद हो गया है। विपक्ष ने सरकार पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

दरअसल उत्तराखंड सरकार ने 2022 के लिए सरकारी छुट्टियों के लिए कैलेंडर जारी किया है। इस कैलेंडर में कुल 26 छुट्टियों को शामिल किया गया है। इस कैलेंडर में हरेला और छठ की छुट्टी को शामिल किया गया है लेकिन इगास की छुट्टी नहीं है। ऐसे में अब विपक्ष ने सरकार की मंशा पर सवाल खड़े किए हैं।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा है कि अगले साल चूंकि चुनाव नहीं हैं इसलिए बीजेपी ने छुट्टी नहीं दी है। हालांकि आपको बता दें कि इस साल भी इगास की छु्ट्टी को लेकर खूब बयानबाजियां हुईं थीं। इसके बाद अवकाश घोषित कर दिया गया था।

कांग्रेस का कुनबा बढ़ा, इस पूर्व लोकसभा प्रत्याशी ने थामा दामन तो तीर्थ पुरोहितों ने भी दिया सम्मान

सचिवालय सामान्य प्रशासन विभाग ने गुरुवार को वर्ष 2022 की सरकारी छुट्टियों का कलेंडर जारी कर दिया। इसमें 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस, एक मार्च को महाशिवरात्रि, 17 मार्च को होलिका दहन, 18 मार्च को होली, 10 अप्रैल को रामनवमी, 14 अप्रैल को महावीर जयंती, 15 अप्रैल को गुड फ्राइडे, तीन मई को ईद उल फितर, 16 मई को बुद्ध पूर्णिमा, 10 जुलाई को ईद-उल-अजहा, 16 जुलाई को हरेला, नौ अगस्त को मुहर्रम, 11 अगस्त को रक्षाबंधन, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस, 18 अगस्त को जन्माष्टमी, दो अक्तूबर को गांधी जयंती, पांच अक्तूबर को दशहरा, नौ अक्तूबर को ईद-ए-मिलाद, 24 अक्तूबर को दीपावली, 26 अक्तूबर को गोवर्धन पूजा, आठ नवंबर को गुरु नानक जयंती, 25 दिसंबर को क्रिसमस का अवकाश रहेगा।

इसके अलावा, नौ जनवरी को गुरु गोविंद जयंती, दो अप्रैल को चेटीचंद की, 17 सितंबर को विश्वकर्मा पूजा और 24 नवंबर को गुरु तेगबहादुर शहीद दिवस का भी सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है।  सचिवालय और विधानसभा में ये चार अवकाश लागू नहीं होंगे।


हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube