अब चीन से रंगीन टीवी के आयात बंद, मोदी सरकार के कदम से सकते में चीन

17

भारत की नरेंद्र मोदी सरकार ने चीन को एक और झटका दिया है. मोदी सरकार ने गुरुवार को एक बड़ा कदम उठाते हुए सरकार ने रंगीन टेलीविजन के आयात पर बना लगा दिया है. यह आयात प्रतिबंध 36 सेंटीमीटर से लेकर 105 सेंटीमीटर से अधिक की स्क्रीन आकार वाले रंगील टेलीविजन सेट के साथ ही 63 सेंटीमीटर से कम स्क्रीन आकार वाले एलसीडी टेलीविजन सैट भी प्रतिबंध की श्रेणी में हैं. भारत को टीवी का निर्यात करने वाले प्रमुख देशों में चीन, वियतनाम, मलेशिया, हांगकांग, कोरिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड और जर्मनी शामिल हैं. भारत को टीवी का निर्यात करने वाले प्रमुख देशों में चीन, वियतनाम, मलेशिया, हांगकांग, कोरिया, इंडोनेशिया, थाईलैंड और जर्मनी शामिल हैं. भारत में टीवी उद्योग लगभग 15,000 करोड़ रुपए का है, जिसमें से 36% से अधिक चीन और दक्षिण पूर्व एशिया से आयात के रूप में आ रहा है. आत्मनिर्भर भारत के सपने को सक्षम करने के लिए टीवी सेटों के आयात पर यह प्रतिबंध लगाया गया है.

यह भी पढ़े :   उत्तराखंड के इन जिलों में बारिश का आरेंज अलर्ट

 

विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने एक अधिसूचना में कहा, “रंगीन टेलीविजन की आयात नीति को मुक्त से बदलकर प्रतिबंधित कर दिया गया है.” यह आयात प्रतिबंध 36 सेंटीमीटर से लेकर 105 सेंटीमीटर से अधिक की स्क्रीन आकार वाले रंगील टेलीविजन सेट के साथ ही 63 सेंटीमीटर से कम स्क्रीन आकार वाले एलसीडी टेलीविजन सैट भी प्रतिबंध की श्रेणी में हैं. किसी सामान को प्रतिबंधित आयात की श्रेणी में डालने का अर्थ होता है कि यह सामान के आयातक को आयात के लिए वाणिज्य मंत्रालय के डीजीएफटी से लाइसेंस लेना होगा. भारत ने 2019-20 में 78.1 करोड़ डॉलर मूल्य के रंगीन टीवी आयात किए वियतनाम और चीन से आयात पिछले वित्त वर्ष में क्रमशः 42.8 करोड़ डॉलर और 29.3 करोड़ डॉलर का हुआ

यह भी पढ़े :   उत्तराखंड में हालात गंभीर, कोरोना के 298 नए मरीज मिले




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here