देहरादून की इन कॉलोनियों से सीलिंग हटाई गई, डीएम आशीष श्रीवास्तव ने दिया आदेश

1145

उत्तराखंड में कोरोना के सबसे अधिक मरीजों की संख्या वाले देहरादून के लिए आज एक अच्छी खबर सामने आई है। अब देहरादून की भगत सिंह कॉलोनी को कंटेनमेंट जोन से बाहर कर दिया गया है। देहरादून के जिलाधिकारी डॉ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने इसकी संस्तुति कर दी है और भगत सिंह कॉलोनी को कंटेनमेंट जोन से मुक्त कर दिया गया है। आपको बता दें कि भगत सिंह कॉलोनी में कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति पाया गया था और इसके बाद 7 अप्रैल को इस जगह को पूरे तरीके से लॉक कर दिया गया था। पूरा इलाका सील कर दिया गया था और लोगों के आने-जाने पर भी पाबंदी लगाई गई थी। 28 दिन तक शहीद भगत सिंह कॉलोनी कंटेनमेंट जोन बनी रही। और 28 दिन के बाद अब इसे कंटेनमेंट जोन से मुक्त किए जाने की संस्तुति की गई है। हालांकि भगत सिंह कॉलोनी मुक्त तो हो गई है लेकिन यहां 17 मई तक प्रभावी लॉकडाउन लागू रहेगा। अब देहरादून के 3 इलाकों से सीलिंग हट गई है और अब ये इलाके कंटेनमेंट जोन से मुक्त हो गए हैं।

यह भी पढ़े :   बड़ी खबर। कोरोना के 66 नए मरीज मिले, देहरादून में भी बढ़ी संख्या

मुख्य चिकित्सा अधिकारी की पहल पर देहरादून जिले का लक्खीबाग, शहीद भगत सिंह कॉलोनी और तहसील डोईवाला के अंतर्गत आने वाले झबरावाला को कंटेनमेंट जोन से मुक्त कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि अब इन इलाकों में सामान्य लॉक डाउन रहेगा। आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण की वजह से इन इलाकों को सील किया गया था। हर दिन इन इलाकों में नियमित रूप से सर्विलांस किया जा रहा था और लोगों को चिन्हित कर कोरोना वायरस की जांच के लिए सैंपल लिए जा रहे थे। 28 दिन की अवधि पूरी होने पर इन इलाकों को कंटेनमेंट जोन से मुक्ति मिल गई। फिलहाल देहरादून जिले में 17 मई तक प्रभावी लॉक डाउन रहेगा।

यह भी पढ़े :   बड़ी खबर। कोरोना के 66 नए मरीज मिले, देहरादून में भी बढ़ी संख्या

इसके बाद गुुरुवार को सामने आई रिपोर्ट में देहरादून की आजाद कॉलोनी और चमन विहार की एक गली ही पूरी तरह सील रह गई है। इसके साथ ही ऋषिकेश की बीस बीघा कॉलोनी, शिवा इंक्लेव, और आवास विकास कॉलोनी को सील रखा गया है।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here