महत्वाकांक्षाओं के बीच दबे पायलट, राजस्थान में चढ़ा सियासी पारा

155

राजस्थान में चल रही सियासी सरगर्मी के बीच कांग्रेस पर संकट के बादल और गहरे छा गए हैं ऐसा माना जा रहा है कि सचिन पायलट निशा संकेत दिया है कि जब तक अशोक गहलोत को हटाया नहीं जाएगा और उनकी जगह पर या तो सचिन पायलट को खुद या फिर किसी तीसरे को मुख्यमंत्री नहीं बनाया जाएगा तब तक वापसी संभव नहीं हो सकती है । पायलट ने साफ कर दिया है कि अशोक गहलोत को हटाने के बाद ही बातचीत का रास्ता साफ हो सकता है।

राजस्थान में चल रही कांग्रेस विधायक दल की बैठक में भले ही सभी विधायक एक साथ एक सुर में बोल रहे हो कि हमारे नेता अशोक गहलोत है लेकिन इस बीच सचिन पायलट सहित उनके गुट के 22 विधायक इस मीटिंग में शामिल नहीं है। बाद यह भी गौर करने वाली है कि सचिन पायलट और उनके गुट के विधायकों का यह भी कहना है कि बीजेपी में शामिल होने की अभी कोई योजना नहीं है।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here