BIG BREAKING: सचिन पायलट समेत तीन मंत्रियों की सरकार से छुट्टी

190

sachin pioletजयपुर: राजस्थान सरकार की गहमागहमी के बीच सचिन पायलट समेत तीन मंत्रियों की सरकार से छुट्टी कर दी गई है

कांग्रेस की प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने पत्रकारों को बताया कि दर्जनों बार आलाकमान में सचिन पायलट से बात की लेकिन बात नहीं बन पाई और इसीलिए बहुत ही दुखी मन से कांग्रेस की तरफ से यह निर्णय लिया गया है कि सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को क्रमशः उपमुख्यमंत्री तथा मंत्री पद से बर्खास्त कर दिया गया है।

 

इसी के साथ ही गोविंद सिंह डोटासरा को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है। हेम सिंह शेखावत जो कि एक किसान परिवार से हैं उन्हें राजस्थान प्रदेश सेवा दल का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है ।

यह भी पढ़े :   उत्तराखंड। कोरोना के 230 नए मरीज मिले, हरिद्वार में फिर हालात गंभीर

 

देश में कुछ राज्यों तक सिमट गई कांग्रेस पार्टी में क्या अब अपने लोगों को सहेजने और समेटने की ताकत खत्म हो गई है। क्योंकि जिस तरीके से अब राजस्थान में सियासी गहमागहमी में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया गया है कि सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायकों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी उससे यह तो साफ है कि कांग्रेसी खेमें में ही आर पार की लड़ाई है जिसका फायदा गाहे-बगाहे बीजेपी को होने वाला है।

सियासी वर्चस्व की लड़ाई लड़ता राजस्थान का कांग्रेसी खेमा दो भागों में बंटा जरूर है लेकिन इसने कांग्रेस आलाकमान के कई loopholes को भी सामने लाकर रख दिया है ।

यह भी पढ़े :   फिलहाल उत्तराखंड में स्कूल खुलने की संभावना कम, पैरेंट्स की भी यही राय

अभी हाल ही में कांग्रेस के युवा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हुए और अब राजस्थान के सचिन पायलट अपनों से ही नाराज हैं , तो ऐसे में यह सवाल जरूर उठता है कि आखिर ऐसी कौन सी बात है, ऐसी कौन सी खाई है, जो कांग्रेसी आला कमान और कांग्रेसी नेताओं के बीच बनी हुई दूरियों को कम नहीं कर पा रही है।

देश में इस समय जब कांग्रेस की स्थिति बहुत ज्यादा ठीक नहीं है जब युवा नेताओं की कांग्रेस को बहुत ज्यादा जरूरत है, तो ऐसे में युवा नेताओं की महत्वाकांक्षा और शीर्ष पद पाने की उनकी अभिलाषा के कारण कांग्रेस को मौजूदा वक्त में हर जगह से निराशा ही हाथ लग रही है।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here