लॉकडाउन के दौरान लोगों की आवाजाही से परेशान हुई सरकार, अब जारी हुआ ये आदेश

671

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत में एक बार फिर जनता से कोरोना वायरस से बचने के लिए अपने अपने घरों में ही बने रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रदेश में 23 मार्च, 2020 से 31 मार्च, 2020 तक लॉक डाउन किया गया है। परंतु जानकारी मिल रही है कि मार्केट बंद रहने के बावजूद भी कुछ लोग सड़कों पर आ रहे हैं, यह बहुत ही भयावह स्थिति की ओर ले जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने लॉक डाउन में सहयोग करने वाले सभी लोगों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि हमारा जीवन तभी सुरक्षित रह सकता है, जब हम सरकार के दिशा-निर्देशों का अक्षरशः पालन करें। हम लगातार समाचार पत्रों, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, टीवी एवं रेडियो के माध्यम से लगातार प्रचार प्रसार कर रहे हैं कि इसमें सावधानी ही बचाव है।

यह भी पढ़े :   त्रिवेंद्र सरकार की अधिकारियों को नसीहत, जनप्रतिनिधियों का कुर्सी से खड़े होकर करें अभिवादन

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस के संबंध में अधिकारियों के माध्यम से लगातार अपडेट ली जा रही है। समाज से भी इसमें सुझाव लिए जा रहे हैं। समाज एवं बुद्धिजीवियों से लगातार इसमें सख्ती करने के सुझाव आ रहे हैं। इसके मद्देनजर सरकार ने निर्णय लिया है कि 24 मार्च 2020 को प्रातः 7:00 बजे से 10:00 बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी। पूर्वाहन 10:00 बजे बाद पूर्ण रूप से लॉक डाउन का पालन करते हुए प्राइवेट वाहनों को भी प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। एटीएम एवं बैंक भी खुले रहेंगे। आवश्यक सेवाओं को छोड़कर राज्य सरकार के सभी सरकारी कार्यालय भी बंद रहेंगे। यही प्रक्रिया आगे भी जारी रहेगी। उन्होंने सभी से खुद को अपने परिवार को अपने सगे संबंधियों को सुरक्षित रखने के लिए इस लॉक डाउन का सहयोग करने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि हजारों लोग अपने देश के अन्य हिस्सों से घर वापस आ रहे हैं। कुछ लोगों को घर भेज दिया गया है और उन पर निगरानी रखी जा रही है। उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि अपने आस पड़ोस में बाहर से आने वाले लोगों में कोरोना वायरस जैसे लक्षण देखे जाने की जानकारी मिलने पर टोल फ्री नंबर 104 पर जानकारी अवश्य दें।

बड़ी खबर : देहरादून में कोरोना का एक और मरीज मिला, चार हुई संख्या




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here