कौन है कनिका कपूर, जिस पर योगी सरकार ने कोरोना फैलाने का मुकदमा लिखवा दिया

469

कनिका कपूर…ये वो नाम है जो इन दिनों पूरे भारत में कोरोना की चर्चाओं में तेजी से लिया जा रहा है। सोशल मीडिया पर तो कनिका कपूर को विलेन की तरह ही पेश कर दिया गया है। ट्वीटर पर तो #KanikaKaCoronaCrime ट्रेंड करने लगा। वहीं उत्तर प्रदेश में तो कनिका कपूर के खिलाफ बाकायदा FIR दर्ज कराई कराई गई है। आखिर ये कनिका कपूर हैं कौन?

कनिका कपूर का एक लाइन का परिचय कहें तो वो एक बॉलीवुड सिंगर हैं। उत्तर प्रदेश के लखनऊ में जन्मी कनिका अपने गाए गानों के लिए बेहद फेमस हैं। उनका गाया गाना ‘बेबी डॉल‘ के बारे में आप पहले ही कई जगहों पर पढ़ चुके होंगे। ये गाना ‘रागिनी एमएमएस 2’ फिल्म का है और सनी लियोनी पर फिल्माया गया है।

(अगर बेबी डॉल गाना देखने का मन करे तो लिंक क्लिक कर सकते हैं – बेबी डॉल गाना )

कनिका कपूर के गाए कई और गाने भी हैं जो खासे चर्चित हुए मसलन, ‘चिट्ठियां कलाइयां‘, ‘जुगनी पीके टाइट है‘, ‘टुकुर टुकुर‘, ‘टेडी बीयर‘।

यह भी पढ़े :   CBSE की 12वीं कक्षा के रिजल्ट जारी, यहां देखे

कनिका का कसूर

कनिका क्यों चर्चा में हैं। कनिका को सोशल मीडिया पर क्यों सदी के सबसे बड़े विलेन के तौर पर पेश किया जा रहा है। दरअसल कनिका और कोरोना का कनेक्शन है। 11 मार्च को कनिका लंदन से लौटीं। कनिका पर आरोप है कि कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी वो एयरपोर्ट से भाग निकली और अपने घर पहुंच गईं। इसके बाद उन्होंने होली की पार्टी भी दी। इस पार्टी में कई बड़े लोग शामिल हुए। इसमें राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया और उनके बेटे दुष्यंत सिंह भी शामिल हुए। यही नहीं, उत्तर प्रदेश के स्वास्थय मंत्री भी इस पार्टी में शामिल हुए। इसके साथ ही कई हाईप्रोफाइल लोगों ने इस पार्टी में शिरकत की। कनिका की पार्टी के बाद दुष्यंत सिंह तो संसद भी गए और राष्ट्रपति से भी मुलाकात की। कनिका इस बीच लखनऊ स्थित अपने घर से कानपुर में अपने रिश्तेदारों के घर तक का चक्कर लगा आईं। बाद में खुलासा हुआ कि कनिका को कोरोना पॉजिटिव हैं। इसके बाद आनन फानन में कनिका को उनके घर से लाकर आइसोेलेशन में डाला गया। इसी के बाद कनिका के खिलाफ लखनऊ में इस संक्रामक बीमारी के इलाज में सहयोग न करने और इस फैलाने का आरोप लगाते हुए FIR भी दर्ज करा दिया गया है।

यह भी पढ़े :   BREAKING: उत्तराखंड में अफसरों के विभागों में बदलाव, सरकार ने दिए आदेश

क्या कहती हैं कनिका

कनिका अपना बचाव कर रहीं हैं। कनिका की माने तो उन्हें नहीं पता था कि वो कोरोना पॉजिटिव हैं और उन्हें एयरपोर्ट पर किसी डाक्टर ने चेक भी नहीं किया। कनिका ने अपने ऊपर लग रहे आरोपों को सिरे से खारिज किया है और पूछा है कि कोई एयरपोर्ट पर हो रही जांच से बचकर कैसे भाग सकता है? कनिका की माने तो वो मेहनती हैं, पढ़ी लिखी हैं और उन्हें सोशल मीडिया पर विलेन के तौर पर क्यों देखा जा रहा है ये उन्हें नहीं पता। कनिका फिलहाल लखनऊ के एक अस्पताल में आइसोलेशन में हैं और उन्होंने एक टीवी चैनल के साथ बातचीत में उन्होंने आरोप लगाया है कि उन्हें डाक्टर धमकी दे रहें हैं। उन्हें खाने पीने का सामान नहीं दिया जा रहा है।

यह भी पढ़े :   देहरादून स्टेशन का बोर्ड ट्वीट कर फंस गए संबित पात्रा, लोग कर रहें हैं खिंचाई

एजेंसियों पर सवाल 

कनिका कपूर लंदन में काफी दिनों तक रहने के बाद भारत पहुंची और एयरपोर्ट से बिना जांच के कैसे बाहर निकल गईं? कनिका को आइसोलेशन में क्यों नहीं रखा गया? स्वास्थय एजेंसियों को कनिका की पार्टी की खबर कैसे नहीं लगी और पार्टी की इजाजत कैसे मिली। ये तमाम सवाल हैं जो उत्तर प्रदेश सरकार के कोरोना से लड़ने के दावों पर सवाल खड़े करते हैं।

loading…

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here