भारतीय वायुसेना ने अमेरिकी मैगजीन में छपी रिपोर्ट के दावे को खारिज कर F-16 मार गिराए जाने का सबूत भी पेश किया है। अमेरिकी मैगजीन में छपी एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि 27 फरवरी को पाकिस्तान ने F-16 भारत के खिलाफ नहीं उतारा था जिसे वायुसेना ने मार गिराया था। अमेरिकी मैगजीन के अनुसार पाकिस्तान में सभी F-16 विमान सुरक्षित हैं।

भारतीय वायुसेना ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है कि भारतीय वायुसेना के पास न केवल विश्वसनीय साक्ष्य हैं जो साबित करते हैं कि पाकिस्तान ने अमेरिकी फाइटर प्लेन F-16 का इस्तेमाल किया था बल्कि वायुसेना की जवाबी कार्रवाई में मिग-21 से F-16 के मार गिराने के भी सबूत हैं।

भारतीय वायुसेना ने F-16 को मार गिराने का रडार इमेज भी जारी किया है जिसमें दिख रहा है कि एयरफोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के एफ-16 को निशाना बनाया.

एयर वाइस मार्शल आरडीके कपूर ने कहा कि हमारे पास विश्वसनीय सूत्र हैं जो साबित करते हैं कि पाकिस्तान ने अपना F-16 फाइटर प्लेन खो दिया है लेकिन सुरक्षा कारणों और गोपनीयता के चलते हम इसे पब्लिक डोमेन में साझा नहीं कर सकते।

एयर वाइस मार्शल आरजीके कपूर ने कहा कि हमारे रडार इमेज में यह कैप्चर किया गया है कि पाकिस्तान ने तीन F-16 विमान इस्तेमाल किया था।

भारतीय वायुसेना ने एक बयान जारी कर कहा है कि 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना ने बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी शिविर को तबाह किया था। भारत को जैश के ट्रेनिंग की खुफिया जानकारी मिली थी. भारत की यह सैन्य कार्रवाई नहीं थी।

एयरफोर्स ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है 27 फरवरी 2019 को एरियल मैनेजमेंट के चलते 2 एयक्राफ्ट मार गिराए गए, जिसका हमारे पास इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर और रेडियो ट्रांसक्रिप्ट भी हैं