उत्तराखंड के चारों धामों से लाइव दर्शन की व्यवस्था नहीं होगी। इसका लाइव टेलीकास्ट नहीं होगा। सीएम पुष्कर धामी की अध्यक्षता में देवस्थानम बोर्ड की बैठक में ये फैसला लिया गया है।


devsthanam board meeting

उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम बोर्ड की बैठक में धार्मिक मान्यताओं को देखते हुए सर्वसम्मति से यमुनोत्री, गंगोत्री, केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के गर्भगृह के लाइव प्रसारण को प्रतिबंधित करने का फैसला लिया गया। बैठक में बोर्ड के वर्ष 2021-22 के बजट को अनुमोदित किया गया। जोशीमठ में श्री बदरीनाथ वेद वेदांग स्नातकोत्तर संस्कृत महाविद्यालय की भूमि पर वेद अध्ययन केन्द्र स्थापित करने का भी निर्णय हुआ।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में शुक्रवार को सचिवालय में आयोजित बोर्ड की तीसरी बैठक में केदारनाथ धाम में पूजा/यात्रा व्यवस्था के सफल संचालन के लिए मास्टर प्लान के अनुसार आधारभूत संरचनाओं का निर्माण कार्य सम्पादित करने को कंसलटेंट चयनित करने पर भी सहमति दी गई।

रोडवेज कर्मियों की सीएम पुष्कर धामी ने ली सुध, 34 करोड़ रुपए स्वीकृत, वेतन भुगतान की उम्मीद

बैठक में पर्यटन मंत्री तथा बोर्ड उपाध्यक्ष सतपाल महाराज, मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. सन्धु, सचिव दिलीप जावलकर, आयुक्त गढ़वाल एवं बोर्ड सी.ई.ओ. रविनाथ रमन आदि मौजूद रहे।

अधिकार का काम नहीं

मुख्यमंत्री ने कहा कि चारधाम स्थित मन्दिरों में पुरानी परम्पराएं चलती रहेंगी। राज्य सरकार का कार्य मन्दिर की आंतरिक व्यवस्थाओं पर अधिकार करना नहीं बल्कि सहयोग करना है। हमारा उद्देश्य मन्दिर परिसरों की सुविधाओं के विकास में सहयोगी बनना है।

उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में सभी सम्बन्धित लोगों से वार्ता भी की जायेगी। यात्रा संचालित न होने पर आवश्यकता पड़ने पर बोर्ड को अतिरिक्त वित्तीय सहायता देने पर भी विचार किया जाएगा, इसके लिए मुख्यमंत्री ने संशोधित प्रस्ताव भेजने को कहा।

आपको बता दें कि उत्तराखंड चार धाम यात्रा शुरु करने के मसले पर हाईकोर्ट और सरकार आमने सामने आ गए थे। सरकार ने यात्रा शुरु करने की इजाजत दे दी थी लेकिन बाद में कोर्ट के सख्त रवैए को देखते हुए अनुमति वापस ले ली गई। इसी सुनवाई के दौरान कोर्ट ने सरकार से चारों धामों से लाइव टेलिकास्ट की व्यवस्था करने के लिए कहा था।


समाचारों के लिए हमें ईमेल करें – khabardevbhoomi@gmail.com। हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube