राफेल की चोरी हुईं फाइलों के बहाने राहुल का मोदी सरकार पर नया हमला

363

राफेल सौदे के दस्तावेजों को गायब होने की ख़बर सामने आने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में कई सारी चीजें गायब हो गई है, ऐसा लगता है उनका काम ही है गायब करना.

इस सरकार में सब गायब

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘गायब हो गया’. अब दो करोड़ युवाओं का रोजगार गायब हो गया, किसानों को सही दाम गायब हो गया, 15 लाख का वादा गायब हो गया, किसानों के बीमा का दाम गायब हो गया, डोकलाम गायब हो गया और अब राफेल की फाइलें गायब हो गईं. कल एक बड़ी रोचक बात हुई कि मीडिया के बारे में कहा जाता है कि हम आप पर जांच करेंगे, क्योंकि राफेल की फाइलें गायब हो गईं हैं, लेकिन जिसने 30 हजार करोड़ रुपए को घोटाला किया है, जिसके बारे में फाइलों में साफ लिखा है, उस पर कोई जांच नहीं होगी.

गौरतलब है कि बुधवार को राफेल मामले में सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के दौरान अटॉर्नी जनरल ने कहा कि राफेल विमान सौदे से संबंधित दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी किये गये हैं और याचिकाकर्ता इन दस्तावेजों के आधार पर विमानों की खरीद के खिलाफ याचिकायें रद्द करने के फैसले पर पुनर्विचार चाहते हैं.

ये भी पढ़िए – देश में बेरोजगारी ने बनाया नया रिकॉर्ड, मोदी सरकार कटघरे में

प्रेस कांफ्रेंस की मुख्य बातें-

  •  अनिल अंबानी को पैसे देने के चक्कर में राफेल डील में देरी हुई, पीएम मोदी ने राफेल डील में देरी की.
  • कागज में जिसका नाम है उस पर कार्रवाई हो, मोदी जी ने राफेल डील में बाइपास सर्जरी की है, अगर राफेल के कागज गायब हुए तो आरोप सच्चे हैं.
  • राफेल की फाइल गायब हैं, वो कह रहे हैं आपकी (मीडिया) जांच होनी चाहिए, लेकिन जो व्यक्ति 30 हजार करोड़ रुपये के घोटाले में शामिल है, उसके खिलाफ कोई जांच नहीं हो रही है. प्रधानमंत्री मोदी की जांच होनी चाहिए.

एयर स्ट्राइक के सबूत पर सवाल पूछे जाने पर राहुल गांधी ने कहा कि “मैं इसके बारे में ज्यादा बात नहीं करूंगा (भारतीय वायुसेना के हमलों के सबूत पर), लेकिन हां मैंने पढ़ा कि शहीद हुए सीआरपीएफ के कुछ कर्मियों के परिवारों ने इस मुद्दे को उठाया है, वे कह रहे हैं कि हम आहत थे इसलिए कृपया हमें दिखाओ क्या हुआ.”

राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस –