सीएम रावत की अधिकारियों को खरी खरी, विकास कार्यों में हुई ढिलाई तो होगी मुश्किल

202

विकास कार्यों में शिथिलता किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। ये सख्त हिदायत सीएम ने अधिकारियों को दी है। सीएम गुरुवार को नैनीताल जिले में हो रहे विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान नैनीताल के प्रभारी मंत्री मदन कौशिक समेत जिले के तमाम विधायक मौजूद रहे। हालांकि हल्दवानी विधायक औऱ कांग्रेस नेता इंदिरा हृद्येश मौजूद नहीं रहीं।

वहीं सीएम ने 18 मार्च 2017 से 18 जुलाई 2018 तक इलाके के लिए 66 घोषणाएं की हैं। इनमें से 30 घोषणाएं पूरी हो चुकीं हैं। जबकि 30 पर काम जारी है। भीमताल- भीमताल क्षेत्र के विकास कार्यो की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने स्पष्ट किया कि अधिकारी घोषणा का मतलब आदेश माने तथा घोषणा क्रियान्वयन में जरा भी लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी।

सीएम ने सैनिक स्कूल घोड़ाखाल को सरकार के जरिए दी जाने वाली अनुदान राशि को 3 करोड़ से बढ़ाकर 5 करोड़ करने का ऐलान किया था। इसके लिए शिक्षा विभाग ने 3.5 करोड़ रुपए का इंतजाम कर लिया है जबकि 1.5 करोड़ का इंतजाम अनुपूरक मांग से होगा। वहीं स्कूल में पढ़ने वाले उत्तराखंड के बच्चों को दिए जाने वाले भोजन भत्ते को 17.50 रुपए से 36.00 रुपए करने में हो रही देरी पर सीएम ने नाराजगी जताई। इसके लिए अधिकारियों को फटकार भी लगी। इसके साथ ही सीएम ने कई सड़कों और अन्य योजनाओं की भी इस समीक्षा बैठक में जानकारी ली।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here