हरेला परंपराओं का प्रतीक, सीएम ने दी शुभकामनाएं

239

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को हरेला पर्व की शुभकामनाएं दी है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा है कि हरेला पर्व हमारी लोक संस्कृति, प्रकृति एवं पर्यावरण के साथ जुड़ाव का भी प्रतीक है। उन्होंने कहा कि प्रकृति को महत्व देने की हमारी परम्परा रही है। प्रकृति के विभिन्न रूपों की हम पूजा करते हैं। हमारी इन परम्पराओं का वैज्ञानिक आधार भी है।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि हमारे लोकगीत तथा पर्व भी प्रकृति प्रेम एवं पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हैं तथा हमें जीवन कैसे जीना चाहिए इसका मार्गदर्शन भी करते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा की हरेला हरियाली तथा ऋतुओं का पर्व है हमें प्रकृति संरक्षण व प्रेम की अपनी संस्कृति, तथा उत्सवों को मनाये जाने की परम्परा को बनाए रखना होगा।
गौरतलब है कि सोमवार से हरेला पर्व की शुरुआत हो रही है। पूरे राज्य में खास तौर पर पर्वतीय इलाकों में हरेला पर्व पर विशेष आयोजन होते हैं। इस दिन के लिए विशेष पकवान बनाए जाते हैं।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here