मदरसे में छात्राओं का यौन उत्पीड़न करने वाला मौलाना गिरफ्तार, बचाई गईं इतनी छात्राएं

317

महाराष्ट्र में पुणे के कटराज उपनगर में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। पुणे पुलिस ने एक मदरसे से यौन उत्पीड़न के आरोपी एक मौलाना को गिरफ्तार किया है। साथ ही पुलिस ने मदरसे से कथित तौर पर कुल 36 छात्राओं को भी बचाया है।

इंस्पेक्टर मिलिंद गायकवाड़ ने बताया कि पुणे में छात्राओं के यौन उत्पीड़न के आरोप में एक मदरसे के मौलाना को गिरफ्तार किया गया है और मदरसे से 36 छात्राओं को भी बचाया गया है। आरोपी मौलाना के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच की जा रही है।
आपको बता दें कि मदरसा 5 से 14 साल के बच्चों के पढ़ाने के लिए जाना जाता है। इस साल की शुरुआत जनवरी में मदरसे में एक नाबालिग लड़की के साथ कथित रूप से बलात्कार किया गया था और महाराष्ट्र के नांदेड़ में मद्रास में तीन अन्य लोगों ने भी यौन उत्पीड़न किया था।

यह भी पढ़े :   राम मंदिर : निमंत्रण पत्र में लगा है खास तरीके का सिक्योरिटी कोड, जाने और क्या है खास

मदरसे के खिलाफ पहला मामला 14 जनवरी को नाबालिग लड़की की मां ने दायर किया था। शिकायतकर्ता का कहना था कि उसकी 11 वर्षीय बेटी के साथ कथित रूप से बलात्कार किया गया था जबकि उसकी दूसरी बेटी का यौन उत्पीड़न किया गया था। 15 जनवरी को मदरसे के खिलाफ एक और मामला दर्ज किया गया था जिसमें आरोप लगाया गया था कि लड़कियों को संस्थान में यौन शोषण का सामना करना पड़ता है। मदरसे में 100 से अधिक छात्रों को मौलाना सबर फारूकी पढ़ाते थे।

पुलिस ने बताया कि दिसंबर 2017 में भी लखनऊ के शाहदतगंज क्षेत्र में मदरसा के प्रबंधक ने 51 लड़कियों को बंधक बना लिया और यौन उत्पीड़न किया। तब मदरसे में 125 से ज्यादा लड़कियां पढ़ने के लिए आती थीं। कुछ लड़कियों ने यौन उत्पीड़न के लिए प्रबंधक के खिलाफ शिकायत की। लखनऊ पुलिस की संयुक्त टीम ने छापे मारकर मदरसा परिसर से बंधक बनाई गई 51 लड़कियों को बचा लिया था।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here