बेहद दुखद: संसद से कुछ दूर पर भूख से मर गईं तीन बच्चियां, पिता गायब

273

इससे अधिक दुखद खबर इस देश के लिए क्या हो सकती है कि आजादी के 70 बरस बाद भी देश की संसद से महज कुछ दूरी पर तीन बच्चियों की मौत भूख से हो जाए। दिल्ली में एक ऐसी ही घटना सामने आई है। तीन बच्चियां भूख से तड़प तड़प कर भूख से मर गईं। डाक्टरों को यकीन नहीं हुआ तो अपना शक पुख्ता करने के लिए उन्होंने इन बच्चियों का दो बार पोस्टमार्टम किया।

घटना मंगलवार को दिल्ली के मंडावली में हुई। यहां तीन बच्चियों शिखा (8), मानसी (4) और पारुल (2) की मौत हो गई। जानकारी मिलने पर पहुंची पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लिया तो पता चला कि मंगल नाम का शख्स अपने बच्चों और पत्नी के साथ मंडावली की गली नंबर 14 साकेत ब्लाक में रहता था। मंगल जिस घर में रहता था उसी घर के मालिक मुकुल मेहरा का रिक्शा चलाता था। कुछ दिनों पहले कुछ लोगों ने मंगल से रिक्शा लूट लिया। रिक्शा लुट जाने से मंगर किराया नहीं दे पाया लिहाजा मालिक ने घर से निकाल दिया।

यह भी पढ़े :   रूस ने बना ली कोरोना की वैक्सीन, पुतिन की बेटी ने लगवा भी लिया

परिवार को लेकर मंगल अपने परिचित नारायण के पंडित चौक स्थित घर पर आ गया। चूंकि पैसे थे नहीं लिहाजा बच्चों को खाना नहीं खिला पाया। मंगलवार को मंगल काम तलाशने की बात कहकर घर से निकला तो वापस नहीं लौटा। उधर बच्चों की तबियत भूख से बिगड़ने लगी। हालांकि आसपास के लोगों ने खाना पहुंचाया लेकिन बुरी तरह बीमार हो चुके बच्चों से खाना नहीं खाया गया और वो रविवार को बेहोश हो गए। मां सभी बच्चों को अस्पताल लेकर पहुंची तो डाक्टरों ने बच्चों को मृत घोषित कर दिया।  हालांकि बच्चों की मां वीणा की माने तो उसने बच्चों को दवा भी दी थी।

यह भी पढ़े :   उत्तराखंड। नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी की गाड़ी पर गिरा बोल्डर, मौत

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here