धूमाकोट हादसे में लापरवाही मिलने पर दो और अधिकारी सस्पेंड

234

धूमाकोट में बस दुर्घटना मामले में अब लोक निर्माण विभाग ने भी सख्त कदम उठाया है। शासन ने इस सड़क के रखरखाव में लापरवाही पाए जाने पर निर्माण खंड बैजरों के सहायक अभियंता एवं कनिष्ठ अभियंता को निलंबित कर दिया है। अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने इसके साथ ही बैजरो के अधिशासी अभियंता को अपने क्षेत्र के समस्त मार्गो का निरीक्षण कर इनके रख-रखाव की उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इन मार्गो पर चलने वाले वाहनों पर नजर रखते हुए इनकी रिपोर्ट मय तस्वीर परिवहन विभाग के अधिकारी व जिला प्रशासन को देने को कहा है।

वहीं, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने फिर दोहराया है कि इस मामले में लापरवाह अधिकारियों को नहीं बख्शा जाएगा। भौन-धुमाकोट मोटर मार्ग पर रविवार को हुए बस दुर्घटना में 48 लोगों की मौत हुई थी और 12 घायल हुए थे। इस मामले में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देश पर बीते रोज शासन ने आयुक्त व डीआइजी गढ़वाल को हटाने के साथ ही परिवहन विभाग के प्रवर्तन अधिकारी रामनगर व थानाध्यक्ष धुमाकोट को सस्पेंड कर दिया था।

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here