देहरादून के परेड ग्राउंड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आने वाले 2022 के चुनाव का बिगुल फूंक दिया है। प्रधानमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज भारत की नीव की गति शक्ति की है, पिछली सरकारें अपनी तिजोरी भरने में लगी रहीं पिछली सरकारें अपनों के लिए फायदा पहुंचाती रहीं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने 2000 किलोमीटर से नेशनल हाईवे का निर्माण किया । उत्तराखंड के विकास से नौजवानों का भाग्य खुलेगा। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अट्ठारह हजार करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण भी किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्राकृतिक उत्पादों की मांग दुनिया भर में है पहले की सरकारी अपनों का ख्याल रखती थी अपनों की दूरियां भर्ती थी लेकिन हमारी सरकार ने 12 हजार करोड़ से ज्यादा नेशनल हाईवे पर खर्च किए पिछले की सरकारों ने महज छह सौ करोड़ रुपए खर्च किए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने जल जीवन मिशन का काम शुरू किया और उत्तराखंड पर 7 साल में ₹12000 करोड़ खर्च किए हैं उन्होंने कहा कि मुझे अपना कहा याद कराने की ताकत है क्योंकि राजनेता अपनी बात फिर से याद कराने की क्षमता बहुत कम रखते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 10 साल तक सरकारों ने उत्तराखंड को बर्बाद किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बेहतर कनेक्टिविटी के लिए कई नई परियोजनाओं पर काम शुरू किया गया। 2012 में चार धाम में यात्रियों की संख्या का बहुत बड़ा रिकॉर्ड उत्तराखंड में बना। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सीमावर्ती क्षेत्रों में भी सड़क बनाने का काम कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड को टीकाकरण के मामले में अग्रणी राज्य होने पर बधाई दी । उन्होंने कहा कि हमारी डबल इंजन की सरकार में उत्तराखंड में 50 से ज्यादा ऑक्सीजन प्लांट लगाए गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर नगर होते हुए कहा के विपक्ष जनता को आशिक बना कर रखना चाहता है लेकिन हमने जनता को आत्मनिर्भर बनाने का कार्य किया है।

और अंत में प्रधानमंत्री ने कहा ‘जहां पवन बहे संकल्प लिए, जहां पर्वत गर्व सिखाते हैं जहां ऊंचे नीचे सब रास्ते है, भाग्य मेरा सौभाग्य मेरा मैं तुमको शीश नवाता हूं और धन्य धन्य हो जाता हूं।’ और इन्हीं पंक्तियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना संबोधन पूर्ण किया।