ट्रंप ने कहा, मोदी मुसलमानों के साथ मिलकर काम करते हैं

227

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने भारत दौरे के दूसरे दिन एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। इस दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने संवाददाताओं के सवालों के जवाब दिए।

दिल्ली हिंसा पर ट्रंप बोले

दिल्ली में हुई हिंसा पर ट्रंप से पत्रकारों ने सवाल किए। पीएम मोदी से इस संबंध में हुई किसी चर्चा से इंकार करते हुए ट्रंप ने कहा कि, ‘ये उनपर है (कि कैसे निपटा जाए)’। ट्रंप ने कहा कि सीएए को लेकर हमने धार्मिक स्वतंत्रता के बारे में बात की है। पीएम मोदी चाहते हैं कि भारत में लोगों को धार्मिक स्वतंत्रता मिले। ट्रंप ने कहा कि, मोदी का कहना है कि वह मुसलमानों के साथ मिलकर काम करते हैं।

यह भी पढ़े :   7 दिन में बाबा रामदेव के बदले सुर, कोरोना की दवा पर अब ये दिया बयान

trump and modi

ट्रेड डील और ट्रंप

ट्रंप ने भारत में अमेरिकी सामानों के ऊपर लगने वाले ट्रैक्स का मामला भी उठाया। उन्होंने कहा कि भारत सबसे उच्चतम शुल्क वाला देश है, हार्ले डेविडसन को भारी मात्रा में शुल्क देना पड़ता है. अमेरिका के साथ उचित व्यवहार किया जाना चाहिये। 

पाकिस्तान पर पेशकश
पाकिस्तान से सीमा पार आतंकवाद के बारे में पूछे जाने पर ट्रंप ने भारत और पाकिस्तान के बीच फिर से मध्यस्थता की पेशकश की है।  ट्रंप ने कहा कि, अगर मैं मध्यस्थता करने के लिए कुछ भी कर सकता हूं, तो मैं करूंगा। ट्रंप ने कहा कि मेरे पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ भी अच्छे समीकरण हैं, वे सीमा पार आतंकवाद को काबू करने के लिए काम कर रहे हैं। ट्रंप ने कश्मीर को भारत और पाकिस्तान के बीच एक ‘‘बड़ी समस्या’’ के तौर पर बताया।

ट्रंप ने मोदी के सामने लिया पाकिस्तान का नाम, अच्छे संबंधों का दिया हवाला

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here