शिवराज सरकार की पोल खोलता वीडियो, कोरोना मरीज को ढंग से इलाज तक नहीं मिल रहा

271

मध्य प्रदेश में स्वास्थ विभाग की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां एक महिला ने वीडियो जारी कर मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह सरकार के कोरोना से लड़ने के दावों की पोल खोल दी है।

जिस महिला ने वीडियो जारी किया है उनका नाम प्रीती पांडेय है। प्रीती ने सोशल मीडिया पर अपना जो वीडियो अपलोड किया है उसके मुताबिक उनके पति राजकुमार पांडेय भोपाल में राष्ट्रीय स्वास्थय मिशन (NHM) में आईटी सलाहकार के पद पर तैनात हैं। NHM की एक मीटिंग के दौरान राजकुमार को कोरोना संक्रमण हुआ और उन्हें एम्स, भोपाल में एडमिट किया गया। प्रीती ने अपने वीडियो में आरोप लगाया है कि उनके पति को दो दिनों से ठीक से खाना तक नहीं दिया जा रहा है। हालात ये हैं कि दवाएं भी नहीं दी जा रहीं हैं। कोरोना के संबंध में कोई इलाज भी नहीं किया जा रहा है। प्रीती अपने वीडियो में कहती हैं कि उनके पति ने खुद को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करने की मांग भी की लेकिन उसे अनसुना कर दिया गया। प्रीती ने अपने पति से फोन पर हुई बातचीत के आधार पर बताया है कि बड़े अधिकारियों के इलाज में सतर्कता बरती जा रही है जबकि अन्य लोगों का ढंग से इलाज तक नहीं हो रहा है।

यह भी पढ़े :   राजस्थान के सीएम गहलोत के करीबियों के ठिकानों पर इंकम टैक्स के छापे

वहीं प्रीती की माने तो उनके पति में कोरोना संक्रमण पाए जाने के बावजूद उनके और उनके तीन साल के बेटे की जांच के लिए कोई नहीं पहुंचा। प्रीती ने एहितायत के तौर पर खुद को घर में बंद कर रखा है। प्रीती ने अपने वीडियो के जरिए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपने पति के ढंग से इलाज कराने और खुद की जांच की मांग की है।

मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार कोरोना संक्रमण से निपटने को लेकर सवालों के घेरे में है। भोपाल और इंदौर में कोरोना संक्रमण बेहद तेजी से फैला है। कुछ खबरों में इंदौर के लोगों को इसके लिए जिम्मेदार बताया गया हालांकि कम जांच और अव्यवस्थाएं भी इसके लिए दोषी करार दी गईं हैं।

यह भी पढ़े :   देखिए VIDEO: महिला सिपाही को उसके पति ने दरोगा के साथ पकड़ा, हुआ हंगामा

यहां देखिए महिला का पूरा वीडियो –

(आप हमें फेसबुक पर फॉलो कर सकते हैं। हमारे यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करना न भूलें)

भारत में कोरोना के मामले पांच हजार से ऊपर हैं, अब क्या करेगी सरकार?

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here