फंसते जा रहें हैं निशंक, नामांकन रद्द होने का खतरा बढ़ा

2077

हरिद्वार से बीजेपी के टिकट पर सांसद पद के उम्मीदवार रमेश पोखरियाल निशंक की मुश्किलें कम नहीं हो रहीं हैं। अब आरटीआई से मिली एक जानकारी के आधार पर निशंक का नामांकन रद्द करने की अर्जी डाली गई है। आरटीआई से मिली जानकारी में दावा किया गया है कि निशंक के ऊपर राज्य सरकार की दो करोड़ की देनदारी है लेकिन उन्होंने अपने हलफनामे में ये जानकारी नहीं दी।

वहीं निशंक के नामांकन को रद्द करने के लिए डाली गई याचिका पर हाईकोर्ट में सोमवार को सुनवाई नहीं हो पाई। ये सुनवाई अब मंगलवार को होगी। इस याचिका में निशंक के ऊपर बेटी से जुड़े तथ्यों के साथ ही कुछ अन्य तथ्य छुपाने का आरोप लगाए गए हैं।

ये भी पढ़िए – सांसद रावत का टिकट कटा, सामने आईं रोने की ये तस्वीरें

वहीं निशंक के ऊपर आंवटित भूमि का विवरण छुपाने का भी आरोप लगाया गया है। रमेश पोखरियाल निशंक के नाम पर श्रीनगर में है जबकि दूसरी हिमालयन आयुर्वेदिक कॉलेज के नाम पर आंवटित है। निशंक ने इस भूमि का विवरण भी अपने नामांकन में नहीं दिया है।

ऐसे में अब माना जा रहा है कि निशंक का नामांकन रद्द भी हो सकता है। फिलहाल मामला कोर्ट में है और कोर्ट को अंतिम फैसला देना है।