उत्तराखंड में बाड़ाहोती सीमा पर चीनी सैनिकों की सक्रियता फिर एक बार बढ़ी हुई दिख रही है। उत्तराखंड के बाड़ाहोती में चीनी सैनिक देखे गए हैं।


barahoti border
FILE

उत्तराखंड के चमोली के बाड़ाहोती में चीन के लगभग चालीस सैनिक देखे गए हैं। खुफिया एजेंसियों को इस संबंध में जानकारी दे दी गई है और एजेंसियों नजर बनाए हुए हैं। बताया जा रहा है कि स्थानीय लोगों ने बाड़ाहोती में भारत चीन सीमा पर चीनी सैनिकों का दस्ता देखा। इसके बाद उन्होंने स्थानीय प्रशासन को जानकारी दी।

 

आसपास के इलाके में भी चीनी सैनिकों की हलचल देखी गई है। हालांकि इस इलाके में चीनी सैनिकों की आवाजाही बनी रहती है। ये खुला इलाका है और यहां भारत और चीन सीमा बिल्कुल आमने सामने है। कई बार चीनी सैनिक अपने साथ लाए खाने पीने के सामान और सिगरेट के खाली रैपर भी इस इलाके में फेंक कर जाते हैं।

होतीगाड़ में भी दिखे सैनिक

स्थानीय लोगों के अनुसार होतीगाड़ में भी कुछ चीनी सैनिक देखे गए हैं। ये सैनिक घोड़े पर सवार होकर इस इलाके में पहुंचे थे। कुछ देर इस इलाके में रुकने के बाद ये सैनिक वापस लौट गए हैं।

 

उत्तराखंड से लगी चीन सीमा पर अक्सर इस तरह की हलचल देखी जाती है। स्थानीय प्रशासन भी इस इलाके में अपनी नजर बनाए रहता है। साल में चार बार प्रशासन की टीम सैन्य बलों के साथ इस इलाके में जाती है। सीमा क्षेत्र में अपनी मौजूदगी दर्ज कराने के लिए प्रशासन की टीम सैन्य बल के साथ होतीगाड और बाड़ाहोती एरिया तक पहुंचती है।

China-PLA-
FILE

चूंकि बाड़ाहोती का ये पूरा इलाका विवादित है और पूर्व में हुए एक समझौते के तहत भारतीय सैन्य बल यहां बिना हथियारों के ही पेट्रोलिंग करते हैं। लिहाजा ऐसे में चीन कई बार इस इलाके में घुसपैठ की कोशिश करता है।

 

दरअसल 1958 के दौरान दोनों देशों के बीच एक समझौता हुआ था जिसमें बाड़ाहोती के चारागाह को विवादित इलाका माना गया और तय किया कि कोई भी देश इस इलाके में अपने सैनिकों को हथियारों के साथ नहीं भेजेगा। हालांकि चीन अब इस समझौते को तोड़ता नजर आता है।

ये भी पढ़िए – Uttarakhand: सीएम पुष्कर धामी ने 200 करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया

वहीं भारतीय सैन्य बलों की तरफ से आईटीबीपी और सेना दो अलग अलग स्तरों पर इस इलाके में गश्त करती है। वो भी बिना हथियारों के।

चीन सीमा की तरफ बाड़ाहोती से काफी उंचाई पर तनजुंला दर्रा है जहां हमेशा चीनी सैनिक तैनात रहते हैं।


समाचारों के लिए हमें ईमेल करें – khabardevbhoomi@gmail.com। हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube