जो प्रत्याशी सीएम त्रिवेंद्र के बेडरूम में जा सकता था वो हार गया

259

तो क्या उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार का जादू खत्म होने लगा है। रुड़की में हुए नगर निगम के चुनावों से तो यही लग रहा है। रुड़की में तो मेयर पदों के लिए हुए चुनावों में बीजेपी पहले दूसरे छोड़िए तीसरे नंबर पर पहुंच गई। हैरानी ये है कि कांग्रेस दूसरे नंबर पर आ गई और मेयर पद पर तो निर्दलीय गौरव गोयल का कब्जा हो गया। इस बार राज्य के नगर निकाय चुनावों में पहली बार ऐसा हुआ है कि मेयर पद पर किसी निर्दलीय ने कब्जा कर लिया हो। गौरव गोयल भाजपा से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले गौरव गोयल ने 3451 वोटों से जीत दर्ज की है।

यह भी पढ़े :   बाबा रामदेव को हाईकोर्ट का नोटिस, दवा पर एक हफ्ते में मांगा जवाब

गौरव गोयल को 29080 वोट मिले। वहीं कांग्रेस प्रत्यााशी रिशु राणा 25629 वोटों के साथ दूसरे नंबर तो भाजपा के प्रत्याशी मयंक गुप्ता 19142 वोटों के साथ तीसरे नंबर पर रहे ।

वहीं 40 पार्षदों की सीटों में से आधी (20) पर निर्दलीयों ने कब्जा कर लिया तो 17 सीटें भाजपा के खाते में गई। एक सीट बसपा तो कांग्रेस दो ही सीटों पर सिमट गई।

रुड़की नगर निगम में बीजेपी ने पूरी ताकत झोंकी थी। यहां तक कि सीएम त्रिवेंद्र रावत भी चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे थे। यहां अपनी चुनावी सभा में सीएम त्रिवेंद्र ने कहा था कि मेयर ऐसा हो जिसकी पहुंच मुख्यमंत्री के बेडरूम तक हो। बीजेपी ने अपना दांव मयंक गुप्ता पर लगाया था। सीएम ने मयंक गुप्ता के लिए चुनाव प्रचार भी किया। वहीं बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट भी पहुंच थे।

तो इंदिरा हृद्येश को लगती है ठंड, इसलिए गैरसैंँण में नहीं हुआ सत्र?

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here