अब उत्तराखंड में टीचर्स की होगी रेटिंग, पांच श्रेणियां तय

949

देहरादून। उत्तराखंड में अब गुरुजी की रेटिंग तय होगी। इसी आधार पर उनका मूल्यांकन किया जाएगा। इसके लिए शिक्षा विभाग ने तैयारी कर ली है। ये रेटिंग शिक्षा विभाग मासिक परीक्षाओं में बच्चों को मिले अंकों के आधार पर होगी। इसके लिए पांच श्रेणियां तय कर दी गई हैं। सबसे उच्च श्रेणी के शिक्षकों को अन्य शिक्षकों को प्रशिक्षण देने का जिम्मा दिया जाएगा।

शिक्षा में सुधार के तहत विभाग पहले से ही बोर्ड परीक्षा में छात्रों के नंबरों के आधार पर शिक्षकों के मूल्यांकन की बात करता रहा है। शिक्षा सचिव आर मिनाक्षी सुंदरम के मुताबिक अब शिक्षकों की रेटिंग मासिक परीक्षा में छात्रों के परीक्षा परिणाम के आधार पर भी की जाएगी। मासिक परीक्षा सरकारी विद्यालयों में एक साल पहले शुरू की गई थी।

यह भी पढ़े :   बड़ी खबर। कोरोना के 66 नए मरीज मिले, देहरादून में भी बढ़ी संख्या

 

शिक्षा सचिव के मुताबिक इस एक साल के औसत परीक्षा परिणाम के आधार पर पांच श्रेणियां तय की गईं हैं। पहली श्रेणी आउट स्टैंडिंग, दूसरी वेरी गुड, तीसरी गुड, चौथी एवरेज या सामान्य और पांचवीं बिलो एवरेज या सामान्य से कम की होगी। सबसे उच्च श्रेणी के शिक्षकों को मेंटर टीचर बनाया जाएगा और यह शिक्षक अन्य शिक्षकों को बताएंगे कि कैसे परीक्षा में छात्रों से बेहतर परिणाम हासिल किया जा सकता है।

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here