Uttarakhand: राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत का ट्विटर अकाउंट ब्लाक कर दिया गया है। ट्विटर ने ये कार्रवाई की है।


harish rawatकांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत का ट्विटर अकाउंट ब्लाक कर दिया गया है। ट्विटर ने ये कार्रवाई की है। हरीश रावत का ट्विटर अकाउंट राहुल गांधी का किया ट्वीट शेयर करने पर ब्लाक किया गया है।

 

दरअसल राहुल गांधी ने हाल ही में एक दुष्कर्म पीड़ित के परिवार की पहचान ट्विटर पर सार्वजनिक कर दी थी। इसके बाद ट्विटर ने कार्रवाई शुरु की। ट्विटर ने कांग्रेस नेताओं के ट्विटर अकाउंट ब्लाक करने शुरु किए।

 

इसमें वो अकाउंट शामिल हैं जिन्होंने राहुल गांधी के ट्वीट को शेयर किया था। इस कार्रवाई की जद में कांग्रेस के कई नेता आ गए और उनके अकाउंट ब्लाक किए जाने लगें।

ये भी पढ़िए – Uttarakhand: बड़ी खबर। कुमाऊं में AIIMS की योजना, अमित शाह से सीएम धामी ने कहा ये

इसी कार्रवाई की चपेट में हरीश रावत भी आए हैं। ट्वीटर ने उनका अकाउंट भी ब्लाक किया है।

गणेश गोदियाल का अकाउंट भी हुआ था ब्लाक

राज्य के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल का ट्विटर अकाउंट भी इससे पहले ब्लाक किया जा चुका है। हालांकि कुछ समय बाद इसे अनब्लाक कर दिया गया था।

 

वहीं कांग्रेस ने ट्विटर पर सरकार के इशारों पर काम करने और कांग्रेस के नेताओं के ट्विटर अकाउंट ब्लाक करने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस लगा रही है आरोप

कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी का ट्विटर अकाउंट अस्थायी तौर पर निलंबित किए जाने और कांग्रेस के सीनियर नेताओं के ट्विटर अकाउंट ब्लॉक होने के बाद अब कांग्रेस पार्टी ने यह आरोप लगाया है। इससे पहले कांग्रेस ने बुधवार देर रात दावा किया कि रणदीप सुरजेवाला समेत पांच वरिष्ठ नेताओं के अकाउंट के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है।

 

पार्टी ने कहा कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) के महासचिव और पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन, लोकसभा में पार्टी के सचेतक मनिकम टैगोर, असम प्रभारी और पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह तथा महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव के ट्विटर अकाउंट निलंबित कर दिए गए हैं।

ये भी पढ़िए – Uttarakhand: बड़ी खबर। देहरादून से टिहरी तक टनल बनाने की तैयारी, केंद्र ने उत्तराखंड के लिए खोला खजाना

कांग्रेस पार्टी सोशल मीडिया हेड रोहन गुप्ता का कहना है कि नियमों के उल्लंघन के लिए ट्विटर ने काउंट ब्लॉक कर दिया है। उन्होंने आरोप लगाया कि ट्विटर सरकार के दबाव में काम कर रहा है।

 

इसने पूरे भारत में हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं के 5000 खातों को पहले ही ब्लॉक कर दिया है। उन्हें यह समझने की जरूरत है कि ट्विटर या सरकार द्वारा हम पर दबाव नहीं डाला जा सकता।


हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube