गुजरात के मुख्यमंत्री (Gujarat CM) विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने शनिवार को इस्तीफा दे दिया। रुपाणी ने गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उनके साथ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव नितिन पटेल भी थे।


gujarat cm vijay rupaniपीएम मोदी द्वारा गुजरात के अहमदाबाद में सरदारधाम भवन और सरदारधाम फेज- II कन्या छात्रावास (गर्ल्स हॉस्टल) का ‘भूमि पूजन’ का उद्घाटन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करने के कुछ ही देर बाद रुपाणी राजभवन पहुंचे।

जानकारों का कहना है कि गुजरात में अगले साल दिसंबर में चुनाव होने हैं, जिसको देखते हुए पार्टी ने यह फैसला लिया है। कहा जा रहा है कि पार्टी आने वाला चुनावों में किसी चेहरे के साथ लड़ना चाहती है।

विजय रुपाणी ने कहा कि समय-समय पर पार्टी में यह प्रक्रिया होती रहती है। हम दौड़ते हैं और फिर झंड़ा किसी दूसरे को देते हैं। उन्‍होंने कहा, “मैं पीएम मोदी और पार्टी का आभारी हूं, जिन्होंने मुझे यह जिम्मेदारी दी थी। अब जो भी जिम्मेदारी मिलेगी, मैं उसको निभाऊंगा।”

सामने आईं बर्बर तालीबान की तस्वीरें, महिलाओं और पत्रकारों को बुरी तरह मारा

बता दें कि गुजरात में आम आदमी पार्टी भी अपनी पैठ बनाने में लगी हैं और वह पिछले कुछ दिनों से पार्टी के लोग कोरोना महामारी के दौरान जिन लोगों की मौत हुई थी, उनके परिजनों से भी मुलाकात कर रही है। वहीं दूसरी तरह कांग्रेस ने भी अगले साल होने वाले चुनावों की तैयारियां शुरू कर दी है।


हमारे Facebook पेज को लाइक करें और हमारे साथ जुड़ें। आप हमें  Twitter और Koo पर भी फॉलो कर सकते हैं। हमारा Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें – Youtube