यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने कुछ मोबाइल फोन्स की अड्रेस बुक में आधार का कथित हेल्पलाइन नंबर दिखने की रिपोर्ट्स पर बयान जारी किया है। UIDAI ने स्पष्ट किया है कि उसने किसी भी टेलिकॉम कंपनी को अपना हेल्पलाइन नंबर यूजर्स के कॉन्टैक्ट लिस्ट में फीड करने को नहीं कहा है। सोशल मीडिया पर गुरुवार से ही इस बात की चर्चा जोरों पर है। यूजर्स का कहना है कि टेलिकॉम कंपनियां खुद-ब-खुद UIDAI का हेल्पलाइन नंबर यूजर्स के फोन के कॉन्टैक्ट लिस्ट में डाल रही है।

गौरतलब है कि हाल में लोगों को अपने कॉनटैक्ट्स की लिस्ट में खुद भी खुद uidai का नंबर दिखने लगा है। ज्यादातर प्राइवेट कंपनियों ने ये नंबर खुद ही अपने ग्राहकों की कॉन्टैक्ट लिस्ट में डाल दिया है।